ganna parchi calendar kaise देखे गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे

गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे 2021 (ganna parchi calendar kaise dekhe)दोस्तों आप सभी जानते है कि हम इस वेबसाइट पर किसान योजना और किसानों से जुड़ी हुई हर एक जानकारी इस देश के किसानों तक पहुँचाते है , जिससे किसान भाई लोग हमेशा नई जानकारी से up to date  रहें । 

ganna parchi calendar kaise dekhe hindi me

दोस्तो आज हम इस आर्टिकल में आप सभी को गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे इस बारे में बताएंगे, आप सभी को पता ही होगा कि केंद्र सरकार देश की राज्य सरकारों के साथ मिल कर गन्ना किसानों के लिए बहुत कुछ कर रही है, अगर नहीं पता है तो हम आज आपको ganna parchi calendar kaise dekhe सब जानकारी विस्तार पूर्वक देगे।

हमारे देश की सरकार किसानों की सहायता के लिए हर एक सम्भव प्रयास कर रही है , देश के किसानों को कहीं भी कोई भी परेशानी न हो इस बात का भी ध्यान रख रही है ,लेकिन देश में फैले भ्रष्टाचार के कारण किसानों को उनका हक समय से और पूरी तरह से नहीं मिल पाता है , इस बात का भान सरकार को तब हुआ जब गन्ना किसानों की शिकायतें सरकार को मिलने लगी कि उनके गन्ने को सही दाम पर गन्ना मिल नही खरीद रही है।

इन सभी अनियमितताओं से निबटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश में और उत्तर प्रदेश के अलावा और भी राज्यो ने गन्ना किसानों के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल बनाया है जिसके माध्यम से गन्ना किसान अपनी गन्ना पर्ची को ऑनलाइन गन्ना पर्ची कैलेंडर के द्वारा देख सकते है ।

गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे 2021 ganna parchi calendar kaise dekhe

 इससे पहले किसानों का गन्ना पर्ची कैलेंडर कभी कभी खो जाता था जिससे उनको काफी परेशानी उठानी पड़ती थी। और उनके गन्ने समय पर नही बिक पाते थे और खराब हो जाते थे।

दोस्तो आज हम आप सभी को गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखते है वो देखना बतायेगे, इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको किसी दूसरी पोस्ट को पढ़ने की जरूरत महसूस नही होगी, हम आज आपको हर एक चीज बतायेगे।

दोस्तो गन्ना पर्ची कैलेंडर का उद्देश्य क्या है ? और इसके लाभ क्या है ? और इसकी क्या – क्या विशेषताये है ? ऐसी सभी जानकारी आपको आज यही मिलेंगी।

Up गन्ना पर्ची कैलेंडर (2021) ganna parchi calendar kaise dekhe

दोस्तो इस गन्ना कैलेंडर के द्वारा सभी गन्ना किसान अपने गन्ने की कितनी मात्रा मिल में देनी है और कब और किस दिन देनी है यह जानकारी आसानी से मिल जाती है, और इसके अलावा चीनी मिल से जुड़े हुए सर्वे जो कि जरूरी होते है उनकी भी जानकारी मिलती है और गन्ना किसानों को उनकी पर्ची और भुगतान , और बकाया भुगतान राशि , टोल टैक्स राशि आदि की जानकारी भी इस ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा प्राप्त कर सकते है।

इस जानकारी को घर बैठे पाने के लिए आपके पास एक मोबाइल होना जरूरी है और एक अच्छा नेट कनेक्शन , अब आपको अपने मोबाइल में गूगल खोलना है और गन्ना पर्ची कैलेंडर की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है वहाँ पर अपनी डिटेल्स देके लोग इन कर लेना है इससे आपको सभी जानकारी मिल जाएगी, और यह कैसे करना है हम आगे आपको स्टेप बाई स्टेप बताएंगे । इस पोर्टल के आने के बाद गन्ना किसान कालाबाजारी के शिकार होने से बचने लगे है।

गन्ना पर्ची कैलेंडर का मुख्य उद्देश्य –

दोस्ती आप सभी जानते है कि योगी सरकार ने गन्ना पर्ची कैलेंडर को किसानों की help के लिए शुरू किया है। गन्ना पर्ची कैलेंडर पोर्टल का प्रमुख उद्देश्य गन्ना किसानों को उनके गन्ने बेचने से जुड़ी हुई पूरी जानकारी देना है , इस पोर्टल के आने से पहले गन्ना किसानो को उनके बेचे हुए गन्ने का पेमेंट पाने के लिए बहुत सारी परेशानियो का सामना करना पड़ता था।

और उन्हें बार बार सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे और किसान लोग भ्रष्टाचार के शिकार हो जाया करते थे , गन्ना किसानों की इस समस्या का समाधान करने के लिए योगी सरकार ने इस पोर्टल को शुरू किया इसके द्वारा गन्ना किसान अपनी गन्ना पर्ची कलेण्डर से जुड़ी हुई सारी जानकारी घर में बैठकर ही जान सकते है, इस पोर्टल की वजह से गन्ना किसानों के समय और पैसे की बचत हुई है।

गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे 2021

Highlight some point of ganna parchi calendar 

आर्टिकल का टॉपिक गन्ना पर्ची कैलेंडर 
 किसने बनाया  उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने
किसको लाभ मिला  उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान को 
प्रमुख उद्देश्य  उत्तर प्रदेश की सभी चीनी मिलों और गन्ने से जुड़ी सभी जानकारी  ऑनलाइन गन्ना किसानों को देना।
ऑफिसियल वेबसाइट कौन सी है  गन्ना पर्ची कैलेंडर की वेबसाइट के  लिये यहाँ क्लिक करें

     गन्ना पर्ची कलेंडर के फायदे और मुख्य विशेषता –

1. गन्ना पर्ची कलेंडर पोर्टल के द्वारा गन्ना किसान घर बैठे अपने मोबाइल से ही चीनी मिल से जुड़ी हर एक latest जानकारी पा सकते है।

2. इस ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा गन्ना किसानों की बहुत सारी समस्याएं दूर हुई है।

3. इसके आने के बाद प्रणाली में पारदर्शिता आयी है।

4. गन्ना किसानों की पर्ची की सारी जानकारी उनके मोबाइल नम्बर पर भेजी जाएगी जिससे बिचौलिये उन्हें ठग नही पाएंगे।

5. इस नए पोर्टल का लाभ 50 लाख से ज्यादा गन्ना किसानों को मिलेगा।

6. इस ऑनलाइन पोर्टल के आने से गन्ना किसानों के समय और पैसे बचेंगे।

7. उत्तर प्रदेश सरकार ने वेब पोर्टल के अलावा एक app भी बनाया है जिसका नाम e -can app है जहाँ  e का मतलब इंटरनेट और can का मतलब गन्ने से है।

8. यह app एंड्राइड मोबाइल में प्ले स्टोर खोल कर भी डाउनलोड कर सकते है।

9. वेब पोर्टल की तरह गन्ना किसान इस app से भी गन्ना पर्ची कैलेंडर को देख सकते है।

गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे 2021

गन्ना पर्ची कलेण्डर पर प्रदेश की सभी चीनी मिलों और उनकी ऑफिसियल वेबसाइटों की जानकारी –

दोस्तो गन्ना किसानों को उनके गन्ने सही दाम पर और पूरी पारदर्शिता के साथ बेचने और उससे जुड़ी सभी ताजी जानकारी देने के लिए प्रदेश की सभी 113 मिलो ने अपनी अपनी वेबसाइट को इस पोर्टल से जोड़ा है जिससे समय – समय पर वो लोग अपनी जानकारी इस पोर्टल पर भेजते रहते है। कुछ मीलो की वेबसाइट निम्नलिखित है –

सहारनपुर

देववन्द सरसावा ननौता गागनौली शेरमऊ

सहारनपुर

देववन्द सरसावा ननौता गागनौली शेरमऊ

मुजफ्फरनगर

मन्सूरपुर खतौली रोहाना मोरना तितावी टिकौला बुढाना खाईखेडी

 

16.शामली के ऊन की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
18.शामली की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
19.मेरठ के सकौती की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
20.दौराला की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
21.मवाना की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
22.किनौनी की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
23.नागलामल की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
24.बागपत के रमाला की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
25.मलकपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
26.गाजियाबाद के मोदीनगर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
27.हापुड़ के सिंभावली की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
28.ब्रजनाथपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
29.बुलंदशहर के अनूपशहर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
30.अगौता की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
31.साबितगढ़ की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
32.धामपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
33.बिजनौर  की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
34.चांदपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
35.स्नेहरोड की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
36.बरकतपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
37.बुंदकी की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
38.बिलाई की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
39.चन्दन पुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
40.धनुरा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
41.गजरौला की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
42.बिलारी की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
43.बेलवाड़ा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
44.असमौली की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
45.रजपुरा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
46.बिलासपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
47.पीलीभीत की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
48.पूरनपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
49.मीरगंज  की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
50.फरीदपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
51.बिसौली की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
52.बदायूं की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
53.न्योली की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
54.रोज़ा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
55.तिहार की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
56.निगोही की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
57.लोनी की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
58.गोला की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
59.एरा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
60.पलिया की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
61.हरियावा की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
62.बेलराया की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
63.अजबापुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
64.रामगढ़ की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
65.मोतीनगर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
66.सुल्तानपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
67.बलरामपुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
68.तुलसी पुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
70.रामकोला की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
71.बहादुरपुर की साइट का लिंक के लिए                    यहाँ क्लिक करें।
72.रूपापुर की साइट का लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।

 

दोस्तो यह कुछ चीनी मिलों के नाम है, जहाँ पर आप क्लिक करके डायरेक्ट इन मिलो की वेबसाइट पर जा सकते है।

गन्ना पर्ची कैलेंडर को ऑनलाइन पोर्टल पर कैसे देखे –

दोस्तो अब हम बात करते है कि हम सभी लोग गन्ना पर्ची कैलेंडर को पोर्टल पर जाके कैसे देख सकते है।

1. सबसे पहले आपको गन्ना पर्ची कैलेंडर की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा उसके बाद उसका होमपेज खुलेगा ।

ganna parchi calendar kaise
ganna parchi calendar kaise

2. इस होम पेज पर आपको एक ऑप्शन दिखेगा जिसमें लिखा होगा कि किसान bhai apne आंकड़े देखने के लिए यहाँ click करे, उसके बाद आपको वहाँ क्लिक कर देना है।

3. क्लिक करने के बाद आपको एक फॉर्म टाइप जैसा interface देखने को मिलेगा जिसमे आपको सभी जानकारी भरनी होगी जैसे आपका जिला कौन सा है , कौन सी फैक्टरी, और गाँव जैसे ऑप्शन आपको मिलेंगे आपको उन पर बस क्लिक करना है इसके बाद एक लिस्ट खुलेगी जिसमें से आप अपने गाँव , जिला को चुन सकते है।

ganna parchi calendar kaise dekhe
ganna parchi calendar kaise dekhe

4. इसके बाद आपको कैप्चा फिल करके नेक्स्ट पेज पर जाना है उसके बाद आपको अपना UGC नम्बर डालकर view पर जाना है इसके बाद आपको अपना गन्ना पर्ची कलेण्डर देखने को मिल जाएगा, अगर किसी वजह से आपका UGC नम्बर खो जाता है तो घबराने की कोई भी जरुरत नही है उसके लिए भी उपाय है इसके लिए आपको जिला वाले ऑप्शन में अपने जनपद फिर फैक्टरी और गाँव का नाम choose  करना है इसके बाद आपको उस किसान का नाम चुनना है जिसका UGC नम्बर आपको खोजना है ,बस इतना सा करते ही आपको अपना UGC नम्बर मिल जाएगा।

5. दोस्तो आपका कैलेंडर आपके सामने खुलने के बाद आप उसमे सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है कि आपका कितना बकाया है और किस दिन आपको गन्ने मिल में ले जाने है, गन्ने का rate कितना है ऐसी सभी जानकारी आपको यही मिल जाएगी।

ganna parchi calendar kaise dekhe
ganna parchi calendar kaise dekhe

गन्ना पर्ची मोबाइल एप्प से कैलेंडर देखे

दोस्तो उत्तर प्रदेश सरकार ने  अपने पोर्टल के साथ साथ गन्ना पर्ची कैलेंडर app भी लांच किया है, अगर आप लोग पोर्टल पर नही जा सकते है तो सिंपल से स्टेप में आप इस app में अपना गन्ना पर्ची कैलेंडर देख सकते है इसके लिए आपको अपने moblie में play store से इस app को डॉउनलोड करना होगा इसके बाद app खुल जायेगा, और उसमें आप अपनी सभी जानकारी भर कर उसमें log in कर सकते है, इस एप्प में आपको वो सभी जानकारी मिलेंगी जो कि ऑनलाइन वेब पोर्टल से मिलती है, app एक आसान तरीका है गन्ना पर्ची कलैंडर देखने का।

गन्ना किसानों के लोए हेल्पलाइन नम्बर –

दोस्तो इन सभी के बाद भी सरकार ने  ganna parchi calendar kaise देखे गन्ना किसानों के लिए एक हेल्पलाइन नम्बर भी बनाया है जिस पर कॉल करके गन्ना किसान अपनी परेशानियां बता सकते है और उनके समाधान पा सकते है, अगर आपको अपना गन्ना पर्ची कलेण्डर देखने में कोई भी परेशानी होती है तो आप इस नम्बर पर कॉल करके पूछ सकते है  { 1800- 121 – 3203 } , {1800 – 103 – 5823 }

दोस्तो आज हमने आपको गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखते है ये बताया है , इसके अलावा आपको गन्ना पर्ची app के बारे मे भी बताया है , और अगर आप अपना UGC नम्बर भूल जाते है या खो देते है तो उसे कैसे वापिस लाना है यह भी बताया है,  तो मेरे प्यारे दोस्तो आज आपको इस लेख के द्वारा गन्ना पर्ची कलेण्डर के बारे में सभी जानकारी मिल गयी होंगी ऐसी उम्मीद हम और हमारी टीम करती है, आगे भी आपको हम ऐसी ही जानकारी देते रहेंगे, और ऐसी जानकारी और किसान योजना से जुड़ी हुई हर एक नई अपडेट पाने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम pmkisan.gov.in पर ऑनलाइन देंखे

Leave a Comment